THE SINGLE BEST STRATEGY TO USE FOR STORIES IN HINDI

The Single Best Strategy To Use For Stories in Hindi

The Single Best Strategy To Use For Stories in Hindi

Blog Article

अब्दुल काफी परेशान हो गया था , उसे समझ नहीं आ रहा था कि वह इस शरारत से कैसे बचे।

दोनों बकरियां घास को खाकर खुश रहती थी।

तभी तोते ने अपना काम कर दिखाया। वह अपने कई दोस्तों के साथ आया और अपनी नुकीली चोंच से उसने तेजी से हाथी की दोनों आंखें बींध डाली। हाथी की आंखे फूट गईं। वह तडपता हुआ अंधा होकर इधर-उधर भागने लगा।

अंत में सलीम हार मान गया और बकरी के बच्चे को वहीं छोड़कर। अब्दुल के अम्मी – अब्बू से अपने पैसे लेकर वापस लौट आया।

थोड़ी देर शांत रहने के बाद चिड़िया फिर बोली, “पूरी गर्मी इधर-उधर आलस में बिता दी। अच्छा होता अपने लिए एक घर बना लेते।” यह सुन बन्दर ने गुस्से में कहा, “तुम अपने से मतलब रखो, मेरी चिंता छोड़ दो।”

बबली अपने मन में सोचने लगी अनिल ने तो मना कर दिया होगा क्योंकि अब वो मेरा हो गया लेकिन फिर प्रीति बोली



अब क्या था गोपाल ने पहले डंडे से उसकी पिटाई करने की सोची।

शेरनी लोमड़ी के बच्चे को अलग ले गई और उसे समझाती हुए बोली “देखो, तुम्हारा जन्म लोमड़ी के वंश में हुआ था और उन दोनों का जन्म शेर के वंश में हुआ है। मैंने तुम पर दया करके अपने बच्चों के सामान ही तुम्हे पाला है। अब तुम बड़े हो गए हो। मैंने तुम्हारा पालन पोषण तो किया है, परंतु तुम्हारे सभी गुण लोमड़ी जैसे ही है। इसलिए तुम उस हाथी से डर गए।”

थोड़ी ही देर में हवाएं भी तेज चलने लगी और अब बारिश रुकने का नाम नहीं ले रही थी। बेचारा बन्दर ठण्ड से काँप रहा था, और खुद को ढंकने की भरसक कोशिश कर रहा था। पर चिड़िया ने तो मानो उसे छेड़ने की कसम खा रखी थी, वह फिर बोली, “काश कि तुमने थोड़ी अकल दिखाई होती तो आज यह हालत नहीं होती। कम से कम अब घर बनाना सीख लेना”

अब चिड़िया भी बन्दर की तरह बेघर हो चुकी थी और ठण्ड से काँप रही थी।

अजनार के जंगल में दो Stories in Hindi बलशाली शेर सूरसिंह और सिंहराज रहते थे। सुरसिंह अब बूढ़ा हो चला था। अब वह अधिक शिकार नहीं कर पाता था।

उस दिन से शेर अकेला ही शिकार के लिए जाने लगा। शेरनी घर पर रहकर दोनों बच्चों का पालन पोषण करने लगी।

यह सुनकर बबली थोड़ा छुप से हो गई और सोचने लगी कि मेरी छोटी बहन अगर अनिल को प्रपोज करेगी तो क्या पता अनिल प्रीति का प्रपोजल एक्सेप्ट कर ले, मुझे कुछ तो करना होगा

Report this page